17 Easy Ways to Speed up WordPress Blog in Hindi 2022

एक WordPress Blog का Speed up होना उतना ही जरूरी होता है जितना उस पर पोस्ट डालना या फिर उस पोस्ट का SEO Optimization करना।

हमारे सभी पाठक का एक ही सवाल होता है कि How to Speed up WordPress Blog in Hindi क्योंकि हमारे लगभग सभी पाठक Hindi Blog ही चलाते हैं।

एक धीमा गति से चलने वाला वेबसाइट के तुलना में एक तेज गति से चलने वाला ब्लॉग या वेबसाइट ज्यादा अच्छा परफॉर्म करता है।

यदि आपका ब्लॉग वर्डप्रेस पर है तो हम पूरा विश्वास के साथ ये कह सकते हैं कि इस पोस्ट को पढ़ने के बाद आपको अपना वर्डप्रेस ब्लॉग के स्पीड को फास्ट करने में काफी मदद मिलेगा।

यदि आप अपने वर्डप्रेस ब्लॉग के स्पीड को फास्ट करते हैं तो इससे यूजर्स को भी खुशी मिलेगी और सर्च इंजन में भी आपका ब्लॉग काफी अच्छा परफॉर्म करेगा।

यह पोस्ट निम्नलिखित विषयों को कवर करेगी: दिखाएं

आपको Speed up WordPress Blog का आवश्यकता क्यों है?

WordPress Blog का Speed बढ़ाने का पहला कारण हमारे यूजर्स के समय को बचाना होता है क्योंकि अगर आपका साइट धीमी गति से चलेगी तो कोई भी आपके साइट पर आना नहीं चाहेगा।

दूसरा कारण हमें अपना ब्लॉग को फास्ट करना इसलिए होता है क्योंकि ये एक गूगल का रैंकिंग फैक्टर है।

वैसे हमारे ब्लॉग को रैंक कराने के लिए कई सारे फैक्टर होते हैं लेकिन ब्लॉग का स्पीड भी बहुत ज्यादा मायने रखता है।

एक नए Blogger को अपने ब्लॉग या वेबसाइट को तेज गति से लोड करा पाना कुछ ज्यादा ही मुश्किल होता है क्योंकि वो अभी सीख रहे होते हैं।

हम इस पोस्ट में सिर्फ कुछ ही चरणों में आपको बताएंगे कि आप अपने WordPress Blog का Loading Speed को Fast कैसे कर सकते हैं।

यानी ब्लॉग के Browser में लोड होने की गति को तेज करने के लिए कुछ जरूरी चरणों का पालन करेंगे। ताकि आपका ब्लॉग किसी भी सर्च इंजन में अच्छा परफॉर्म कर सके।

इस पोस्ट में बताए गए blogging tips को पढ़कर आप Speed up WordPress Blog के लिए सभी चरणों को ध्यान से पढ़ें और उसे अपने ब्लॉग पर अपनाएं।

How to Speed up WordPress Blog in Hindi

अगर सर्च इंजन में आपका कोई पेज रैंक कर रहा है और उस पर कोई यूज़र क्लिक करता है और उस पेज को ओपन होने में काफी समय लगता है तो फिर इससे आपका दो नुकसान हो सकता है।

पहला नुकसान ये होता है कि वो यूजर आपके ब्लॉग को छोड़कर दूसरे ब्लॉग को ओपन कर लेता है।

और दूसरा नुकसान ये होता है कि गूगल धीमी गति से चलने वाली वेबसाइट को सर्च इंजन में नीचे के तरफ कर देता है।

इसलिए अपने वेबसाइट को फास्ट गति से लोड कराने के लिए यानी उसका लोडिंग स्पीड बढ़ाने के लिए नीचे बताए गए चरणों को देखें और पालन करें।

ये भी पढ़ें: Latest DO Follow Social Bookmarking Sites List

1. एक अच्छा Hosting Plan चुने

सबसे पहले हमें एक अच्छा Web Hosting कंपनी को चुनना चाहिए उसके बाद उस होस्टिंग का एक रिलिएबल प्लान लेना चाहिए अपने वेबसाइट के आकार के अनुसार।

अब बहुत से लोग एक अच्छा होस्टिंग कंपनी को चुन तो लेते हैं लेकिन अपने वेबसाइट के आकार के अनुसार प्लान नहीं चुन पाते हैं बल्कि पैसा बचाने के चक्कर में छोटा प्लान ले लेते हैं।

हमारे वेबसाइट का लोडिंग स्पीड फास्ट हो इसके लिए पहला कदम एक अच्छा होस्टिंग कंपनी एवं उसका अच्छा प्लान का चुनाव करना होता है।

क्योंकि हमारा वेबसाइट जिस होस्टिंग पर होस्ट है और अगर उसका स्पीड ही धीमा है तो फिर आगे हम चाहे जितना भी जुगाड़ लगा लें लेकिन हमारे वेबसाइट का स्पीड फास्ट नहीं हो पाएगा।

WordPress Blog के लिए Best Hosting

अगर आपको एक सुपरफास्ट होस्टिंग चाहिए तो फिर आप Digital Ocean Cloud Hosting को अपनाएं।

ये थोड़ा सा महंगा होता है लेकिन आपके वेबसाइट को हमेशा फास्ट रखेगा और आप अपने वेबसाइट के स्पीड से संबंधित सभी चिंताओं से मुक्त हो जाएंगे।

Digital Ocean को चलाने के लिए आपके पास थोड़ा टेक्निकल ज्ञान की आवश्यकता होती है, नए ब्लॉगर इसको मैनेज नहीं कर पाएंगे।

तो अगर आप भी नए ब्लॉगर हैं तो या तो डिजिटल ओशन को चलाना सीखे या फिर आप Bluehost india के साथ जा सकते हैं।

ब्लूहोस्ट के शेयर होस्टिंग को चलाना बहुत आसान होता है और यहां पर आपको हिंदी में कस्टमर सपोर्ट मिलता है।

इसके अलावा होस्टिंगर, होस्टगेटर या नेम चिप का होस्टिंग भी शुरुआती के लिए ठीक होता है।

2. अपने नजदीकी सरवत लोकेशन को चुनें

वेबसाइट के स्पीड को फास्ट करने के लिए सरवर लोकेशन भी अहम भूमिका निभाते हैं।

सभी होस्टिंग के अलग-अलग देश में या जगहों पर सरवर लोकेशन होते हैं इसलिए आप होस्टिंग खरीदते समय अपने नजदीकी सरवर लोकेशन को चुने।

लेकिन कई मामलों में सरवर लोकेशन में बदलाव करना पड़ता है।

उदाहरण के लिए आप भारत में रहते हैं और आप अपने साइट पर ऐसा कॉन्टेंट डाल रहे हैं जिसको आप यूएस में रैंक कराना चाहते हैं तो फिर आपके साइट पर यूएस से ट्रैफिक आने वाला है।

तो इस स्थिति में आप भारत में रहते हुए भी यूएस का सर्वर लोकेशन को चुने जिससे आपका वेबसाइट तेज गति से लोड हो सके।

अगर आप अपने होस्टिंग के सरवर लोकेशन को अभी चेंज करना चाहते हैं तो इसके लिए सीपैनल में जाएं और चेंज करें।

नोट: ध्यान रहे सरवर लोकेशन को ट्रांसफर होने में 12 से 48 घंटे का समय लग सकता है।

ये भी पढ़ें: NFT Domain Kya Hota Hai

3. Content Delivery Network (CDN) का इस्तेमाल करें

CDN या Content Delivery Network एक ऐसा सिस्टम होता है जो आपके पूरे वेबसाइट को कॉपी करके अलग-अलग लोकेशन पर रख देता है।

और इसे फायदा ये होता है कि अलग-अलग लोकेशन से आ रहे आपके साइट पर यूजर को लोडिंग स्पीड के समस्या का सामना नहीं करना पड़ता है।

उदाहरण के लिए आपके होस्टिंग का सरवर लोकेशन भारत में बंगलोर है और आपके साइट पर कोई usa से आता है तो फिर CDN सिस्टम उस यूजर कोई usa में ही स्थित अपने सरवर लोकेशन से आपके वेबसाइट का कॉपी किया गया डेटा को दिखा देता है।

तो ऐसे में आप का साइट किसी दूसरे देश में भी तेजी से ओपन हो पाता है।

अगर आप जिस देश से हैं उसी देश से आपके साइट पर ट्रैफिक आता है अन्य देश से नहीं आता है तो मेरे हिसाब से CDN का इस्तेमाल करना कोई जरूरी नहीं है।

4. तेज गति से चलने वाला WordPress Theme का इस्तेमाल करें

हम अपना WordPress Blog में जिस Theme का उपयोग कर रहे हैं उसका भी हमारे साइट के लोडिंग स्पीड में सहयोग होता है।

WordPress पर बहुत से ऐसे फ्री थीम भी हैं जिनका स्पीड अच्छा होता है और उसका इस्तेमाल आप कर सकते हैं जैसे Generatepress, OcenWp, AccessPress, Astra इत्यादि।

एक अच्छा थीम में क्या क्या होना चाहिए

एक अच्छा वर्डप्रेस थीम में निम्नलिखित बातें होनी चाहिए।

Well Optimized Code

Well Optimized Code का मतलब ये हुआ कि आपके वर्डप्रेस थीम का कोड वर्डप्रेस के अनुसार ऑप्टिमाइज्ड होना चाहिए।

Lightweight

Lightweight का मतलब ये हुआ कि आपका वर्डप्रेस थीम लगभग 100 किलोबाइट के जितना होना चाहिए।

वर्डप्रेस थीम का विभिन्न ब्राउज़र के साथ Compatibility होना चाहिए

आप जिस वर्डप्रेस थीम का इस्तेमाल कर रहे हैं उसका लगभग सभी ब्राउज़र के साथ Compatibility या संगतता होना चाहिए।

इससे होगा ये की यूजर चाहे किसी भी ब्राउज़र में आपके वेबसाइट को ओपन करें तो वो आसानी से ओपन हो जाए।

5. हमारा साइट मोबाइल में फिट होना चाहिए

अगर आपका साइट मोबाइल रिस्पॉन्सिव नहीं है यानी मोबाइल में ओपन करने पर मोबाइल के स्क्रीन पर फिट नहीं बैठता है तो फिर स्पीड फास्ट होते हुए भी सर्च इंजन में अच्छा परफॉर्म नहीं कर पाएगा।

जब आपके वेबसाइट को कोई मोबाइल में ओपन करें तो उसमें फिट हो जाए और लैपटॉप या टैबलेट में ओपन करने पर उसमें फिट होना चाहिए इस तरीके से आपको अपने साइट को डिजाइन करना है।

इसके लिए हमारा वर्डप्रेस थीम जिम्मेवार होते हैं इसलिए एक मोबाइल रेस्पॉन्सिव थीम का ही चुनाव करें जैसे हमने ऊपर दो-तीन थीम का नाम बताया।

6. WebP Image का इस्तेमाल करें

हम अपने वेबसाइट पर जो इमेज अपलोड करते हैं उसका भी हमारे वेबसाइट का लोडिंग स्पीड से गहरा संबंध होता है।

हमारा साइट जैसे जैसे पुरानी होती है वैसे वैसे हमारे होस्टिंग के सर्वर पर इमेजेस का लोड बढ़ते जाता है।

जब भी आप अपने ब्लॉग या वेबसाइट के लिए कोई इमेज डिजाइन करें तो उसे webP Format में कन्वर्ट कर लिया करें।

इससे होता ये है कि उस इमेज का क्वालिटी सिर्फ थोड़ा सा डाउन होता है लेकिन उसके फाइल का साइज काफी कम हो जाता है।

और ऐसे इमेजेस अपलोड करने पर हमारे होस्टिंग के सर्वर पर भी ज्यादा लोड नहीं पड़ेगा और हमारे WordPress Blog Speed up बना रहेगा।

अगर आप अपने ब्लॉग पर पहले से JPEG या किसी अन्य फॉर्मेट में हैवी हैवी इमेज अपलोड कर चुके हैं तो इतने सारे इमेज को रिप्लेस करना मुश्किल है।

इसलिए आप किसी अच्छा सा इमेज ऑप्टिमाइज करने वाला प्लगइन का इस्तेमाल करें, और आगे से जिस भी इमेज को अपने साइट पर अपलोड करना हो उसे पहले वेबपी फॉर्मेट में कन्वर्ट करें।

7. Database Optimized करें

आप डेटाबेस को अच्छी तरह से ऑप्टिमाइज करके भी अपने साइट के लोडिंग स्पीड को फास्ट कर सकते हैं।

हमें पता है डेटाबेस ऑप्टिमाइजेशन सब से नहीं हो पाता है लेकिन इसके लिए आप किसी डेवलपर को चुन सकते हैं।

इसके अलावा सीपैनल के द्वारा रूट फोल्डर में जाकर बिना मतलब के पड़ा हुआ कचरा की सफाई करें इससे भी आपके वर्डप्रेस साइट का स्पीड बढ़ेगा।

8. अनाप-शनाप Plugin से बचें

WordPress Blog मू प्लगइन हमारे बड़ा से बड़ा काम को आसान बना देता है लेकिन बहुत ज्यादा प्लगिन भी हमारे साइट के Loading Speed को डाउन कर देता है।

हमने देखा है बहुत से लोग जिस काम को खुद से कर सकते हैं उसके लिए भी प्लगइन इंस्टॉल कर लेते हैं।

उदाहरण के लिए गूगल सर्च कंसोल से साइट वेरिफिकेशन के लिए मिला हुआ कोड को हेडर सेक्शन में डालना होता है और ये हम खुद से थीम के हेडर में जाकर डाल सकते हैं।

लेकिन कुछ लोग इस कोड को हेडर में डालने के लिए भी एक प्लगइन इंस्टॉल कर लेते हैं लेकिन हमारा मानना ये है कि बहुत ज्यादा जरूरी पड़ने पर ही प्लगइन इंस्टॉल करें।

बाकी के जिस काम को आप खुद से कर सकते हैं उसके लिए प्लगइन इंस्टॉल ना करें क्योंकि ये प्लगइन हमारे साइट के रिसोर्सेज को खाता है और लोडिंग स्पीड को धीमा करता है।

9. Caching Plugin का इस्तेमाल करें

Caching Plugin हमारे वर्डप्रेस वेबसाइट को फास्ट बनाने में बहुत बड़ा भूमिका निभाता है।

कोई भी Caching Plugin हमारे वेबसाइट का एक कॉपी बनाकर रखता है।

और जब कोई नया यूजर अपने ब्राउजर में हमारे वेबसाइट को ओपन करना चाहता है तो उसका रिक्वेस्ट हमारे सरवर पर ना जाकर उस प्लगइन के द्वारा कॉपी किया गया डाटा में जाता है।

और फिर हमारा साइट तुरंत ही ओपन हो जाता है तो इससे हमारे सरवर पर भी ज्यादा लोड होने से बच जाता है और हमारा साइट भी फास्ट चलता है।

वैसे तो वर्डप्रेस पर बहुत सारा फ्री Caching Plugin है लेकिन अगर आपके पास बजट है तो आप WP Rocket का इस्तेमाल करें।

WP Rocket फ्री प्लगइन नहीं है इसके लिए आपको सालाना चार्ज देना होता है लेकिन यह बहुत ही बढ़िया काम करता है।

10. पुराने पोस्ट को डिलीट करें

अगर आपके वेबसाइट पर बहुत सारा पोस्ट है तो आप पुराने उन सभी पोस्ट को चिन्हित करके डिलीट करें जो अब किसी काम के नहीं है।

पोस्ट डिलीट करते समय उस में पड़ा हुआ इमेज के Alt Tag को कॉपी कर लें और मीडिया में जाकर उस इमेज को सर्च करके डिलीट किया करें।

क्योंकि कई बार हम पोस्ट को डिलीट कर देते हैं लेकिन उस में पड़ा हुआ इमेज मीडिया फाइल में पड़ा रह जाता है जबकि उस इमेज का अब कोई काम नहीं रहा गया होता है।

ये भी पढ़ें: Domain Authority Kaise Badhaye

11. Delete Unused Images from WordPress

अगर आप जानना चाहते हैं कि आपके WordPress Blog में मीडिया में पड़ा हुआ वो बेकार के इमेज जो अब किसी काम का नहीं है को आप कैसे चिन्हित करके डिलीट करेंगे तो इसके लिए नीचे बताए गए स्टेप्स को फॉलो करें।

Step1: सबसे पहले आप अपने वर्डप्रेस एडमिन पैनल में लॉगिन करें और फिर बाएं साइड में Media इस ऑप्शन पर क्लिक करें।

Step2: अब All media items पे क्लिक करके Unattached को चुनें।

Step3: अब आपके सामने जितने भी फोटो या इमेजेस दिखेंगे वो आपके ब्लॉग पोस्ट के साथ में अटैच नहीं है।

इन्हें डिलीट करने के लिए Bulk select के बटन पर क्लिक करें और फिर आप चाहें तो इन सभी इमेजेस एवं फोटो के ऊपर क्लिक करके सेलेक्ट करने के बाद डिलीट कर सकते हैं।

लेकिन अगर आप अपने ब्लॉग पर Web Stores बनाए हैं तो उसका फोटो भी इन Unattached मीडिया में होता है।

तो वह स्टोरी वाला फोटो को चिन्हित करके छोड़ दें और बाकी के फोटो या इमेजेस को डिलीट कर दें।

आप जितने भी अपने ब्लॉग पर पोस्ट को डिलीट करते हैं उसका फोटो इन्हीं Unattached मेडिया में पड़ा रहता है और इसे डिलीट करके अपना सरवर का लोड को कम करना चाहिए।

12. Site को Update करते रहें

अपडेट करने का मतलब नया करना होता है आप अपने साइट पर थीम, प्लगइन इन सब को अपडेट करते रहे।

हमारे द्वारा यूज किया जा रहा थीम या प्लगइन में कुछ न कुछ कमी होता है जिसे ठीक करने के बाद डेवलपर अपडेट भेजते हैं।

और हम जैसे ही उस अपडेट को डाउनलोड करते हैं वैसे ही हमारा थीम या प्लगइन एक नया वर्जन पा लेता है और उसमें पिछली सभी कमियां दूर हो जाती है।

आप जब भी अपना वर्डप्रेस एडमिन पैनल को ओपन किया करें तो प्लगइन एवं थीम का अपडेट चेक करने के बाद इसे अपडेट करें।

साथ ही वर्डप्रेस कोर अपडेट को भी चेक करके अपडेट करें।

13. PHP के नवीनतम संस्करण का उपयोग करें

PHP एक स्क्रिप्ट भाषा होता है जो हमारे वर्डप्रेस वेबसाइट को शक्ति देता है। जैसे आप थीम एवं प्लगइन को समय-समय पर अपडेट करते हैं वैसे ही पीएचपी को भी नया संस्करण में अपडेट करें।

PHP समय-समय पर पिछले कमियां को खत्म करने के लिए नया अपडेट देता रहता है हमें पीएचपी का नया संस्करण पर ही होना चाहिए ताकि हमारा पेज तेजी से लोड हो सके।

अगर आप PHP के नया संस्करण पर अपडेट नहीं कर पा रहे हैं तो आप अपने होस्टिंग प्रदाता से संपर्क करें वो इसे अपडेट करने में आपका हेल्प कर सकते हैं।

14. Unused Plugin एवं Theme को डिलीट करें

कई बार हमारे प्लगइन लिस्ट में कुछ ऐसे प्लगइन भी होते हैं जिसका इस्तेमाल नहीं हो रहा होता है और कई बार तो वो एक्टिवेट भी नहीं होते हैं तो ऐसे प्लगइन एवं थीम को डिलीट कर देना चाहिए।

जो प्लगइन या थीम एक्टिवेट नहीं है लेकिन फिर भी इंस्टॉल है तो इन्हें के जरिए हैकर्स हमारे साइट में घुसपैठ बना सकते हैं और ऐसे प्लगइन हमारे सरवर पर भी लोड डालते हैं।

15. High Quality Plugin ही Install करें

कोई भी प्लगइन इंस्टॉल करने से पहले उसका रेटिंग चेक करें एवं ये देखें कि उस प्लगइन को अभी कितना लोग इस्तेमाल कर रहे हैं।

क्योंकि लो क्वालिटी का प्लगइन आपके साइट में गड़बड़ीयां पैदा कर सकता है और ऐसा भी हो सकता है कि उस प्लगइन को इंस्टॉल करने के बाद आपका वर्डप्रेस एडमिन पैनल ओपन ही ना हो।

फिर हमें सीपैनल में जाकर उस खराब प्लगइन को रिमूव करना पड़ता है और तभी हमारा एडमिन पैनल ओपन हो पाता है।

एक अच्छा प्लगइन को इस तरह से डिजाइन किया जाता है ताकि वो आपके सरवर पर ज्यादा लोड ना डालें जितना जरूरत हो उतना ही डालें।

और एक अच्छा प्लगइन को अच्छा रेटिंग भी मिलता है क्योंकि उसे इस्तेमाल करने वाले लोग खुश होकर उसके बारे में अच्छा लिखते हैं एवं उस प्लगइन को इस्तेमाल करने वाले लोगों की संख्या भी ज्यादा होती है।

तो ऐसे करके आप एक अच्छा प्लगइन एवं थीम का चुनाव कर सकते हैं जिससे आपके साइड की लोडिंग स्पीड भी बनी रहे।

16. पोस्ट में वीडियो अपलोड ना करें

वैसे तो वीडियो यूजर एक्सपीरियंस को ठीक करता है आगंतुकों को ठहरने का एक अच्छा तरीका है लेकिन ये हमारे सरवर पर बहुत ज्यादा जगह घेड़ता है।

अगर वीडियो डालना जरूरी है तो आप यूट्यूब वीडियो को अपने पोस्ट में एम्बेड कर सकते हैं क्योंकि वो यूट्यूब के सर्वर पर होस्ट होता है और उसका एंबेड कोड ही आपको अपने पोस्ट में डालना होता है।

चाहे आप अपने पोस्ट में वीडियो अपलोड करें या फिर यूट्यूब का वीडियो को एंबेड करें इससे यूजर्स को कोई मतलब नहीं होता है उनको सिर्फ वीडियो देखने से मतलब होता है।

इसलिए सीधे सीधे अपने सरवर पर वीडियो को अपलोड करने से बचें और युटुब जैसे प्लेटफार्म से वीडियो का एंबेड कोड लेकर अपने पोस्ट में डाला करें।

17. अपने पेज के डिजाइन और सामग्री को सरल बनाएं

एक पोस्ट का अच्छा डिजाइन होना अच्छी बात होती है लेकिन कुछ लोग पेज को डिजाइन करने के चक्कर में उसमें इतना सारा एलिमेंट्स एवं इमेजेस डाल देते हैं कि उसका लोडिंग स्पीड बहुत धीमा हो जाता है।

पेज को डिजाइन करते समय हमें सिर्फ यूजर्स का ध्यान रखना होता है, कोई भी युजर आपके पेज पर उसका डिजाइन देखने के लिए नहीं आता है बल्कि अपने सवालों का जवाब लेने के लिए आता है।

आप अपने पोस्ट में लिखी गई सामग्री को सरल बनाने की कोशिश करें पेज की डिजाइन पर ज्यादा फोकस ना करें तभी आपका उस पोस्ट पर लोग अच्छा प्रतिक्रिया देंगे।

अपने ब्लॉग के होम पेज को डिजाइन करते समय भी ज्यादा एलिमेंट्स या इमेजेस का इस्तेमाल ना करें बल्कि इस तरह से डिजाइन करें ताकि यूजर्स आपके होम पेज से आपके ब्लॉग के सभी पोस्ट तक पहुंच प्राप्त कर सके।

ये भी पढ़ें: Blogger vs wordpress

और अंत में

तो हमने यहां पर WordPress Blog को Speed up करने का कई सारे तरीकों के बारे में बात किया जिसे अपनाकर आप अपने ब्लॉग या वेबसाइट को सुपरफास्ट कर सकते हैं।

हमारे ब्लॉग पोस्ट को सर्च इंजन में रैंक करने के लिए कई सारे फैक्टर होते हैं जिसमें हमारा ब्लॉग का तेज गति से लोड होना भी एक फैक्टर होता है।

लेकिन ध्यान रहे सिर्फ साइट के स्पीड फास्ट कर लेने से ही हम रैंकिंग प्राप्त नहीं कर लेते हैं बल्कि बाकी के भी फैक्टर के ऊपर हमें काम करना चाहिए तभी हमें ब्लॉगिंग में सफलता मिल पाता है।

Leave a Comment