पुराना फोन बेचते वक्त ये गलती कभी न करें – Sell ​​old phones with caution

Sell ​​old phones with caution

क्या आप भी अपना पुराना फोन को factory reset करने के बाद बेच देते हैं या फिर किसी को दे देते हैं और फिर निश्चिंत हो जाते हैं। Sell ​​old phones with caution

अगर ऐसा करते हैं तो फिर आपकी privacy खतरे में हो सकती है। आपके द्वारा fone factory reset करने के बाद डिलीट हुए सारा डाटा फिर से रिकवर किया जा सकता है।

क्योंकि आपके फोन को सिर्फ factory reset कर देने से आपके सामने तो सारा डाटा डिलीट हो जाता है लेकिन उसे बड़ी ही आसानी से फिर से वापस रिकवर किया जा सकता है।

आपके फोन में पहले जितने भी डाटा था जैसे फोटो वीडियो डॉक्यूमेंट तो आप अपने फोन को जिसे भी बेचते हैं या फिर दिए हैं वो कभी भी इन सारे डाटा को किसी भी Data Recovery Software के द्वारा आसानी के साथ रिकवर कर सकता है।

Loading...

क्योंकि आपके फोन को factory reset करने के पहले जो भी डाटा होता है वो किसी और एड्रेस पर सेव होता है लेकिन जब आप उसे factory reset कर देते हैं तो वो किसी और एड्रेस पर सेव हो जाता है वो सारा डाटा आपके फोन से मिटता नहीं है।

और ये कहानी सिर्फ आपके फोन के साथ नहीं होता है बल्कि pen drive, sd card, hard disk के साथ में ऐसा ही होता है।

ये भी पढ़े:- how to connect mobile to tv without cable

data recovery software

आपने data recovery software के बारे में सुना भी होगा जो कि आपके फोन को factory reset करने के बाद भी मिनटों में वो सारा डाटा रिकवर किया जा सकता है उन सॉफ्टवेयर के मदद से।

Loading...

तो ऐसे में आपके फोन को सिर्फ factory reset मार के और बेच देना खतरनाक साबित हो सकता है।

Sell ​​old phones with caution

तो चलिए जान लेते हैं कि फोन बेचने के पहले हम क्या करें जिससे कि कोई भी उस फोन के data को recover ना कर पाए।

सबसे पहले आपको प्ले स्टोर से एक ऐसा एप्लीकेशन इंस्टॉल करना होगा जो कि आपके फोन के जंक फाइलों को रिमूव कर देवें।

जंक फाइल रिमूव होने के बाद आप अपने फोन के सेटिंग्स में जाकर जितने भी अकाउंट है सब को रिमूव करना होगा, जैसे गूगल, फेसबुक व्हाट्सएप इत्यादि।

Loading...

सारे अकाउंट्स को रिमूव करने के बाद आपको अपने फोन को इंक्रिप्ट encrypte करना होगा।

अगर आपके पास पुराने मॉडल के फोन हैं तो वहां पर आपको सेटिंग्स में इंक्रिप्शन encryption को ऑन करना होगा।

और अगर आपके पास ज्यादा पुराना फोन नहीं है नया मॉडल है तो फिर ऐसे फोन में आजकल इंक्रिप्शन encryption ऑन ही आता है।

अब बारी आती है फोन को factory reset करने की, लेकिन ये अभी शुरुआत है अभी आगे आपको और भी स्टेप्स फॉलो करने हैं।

phone factory reset के बाद क्या करे

factory reset करने के बाद आप अपने फोन में कुछ जंक फाइलें भर ले यानी कि कुछ मूवी वीडियो फोटो जो कि आप से रिलेटेड ना हो।

इससे होगा ये कि आपका डाटा ओवरराइट overnight हो जाएगा और फिर उसे रिकवर कर पाना नामुमकिन तो नहीं लेकिन बहुत ज्यादा मुश्किल हो जाएगा।

जंक फाइलें डालने के बाद एक बार और आप अपने फोन को factory reset करें।

अब आपने एक बार फैक्ट्री रिसेट किया फिर जंग फाइल डाला और फिर दोबारा से फैक्ट्री रिसेट किया, तो ऐसे में फैक्ट्री रिसेट का प्रोसेस दो बार हुआ।

Loading...

अब अगर आप इस फोन को बेचते हैं और कोई आपके इस फोन का डाटा को रिकवर करना चाहेगा किसी भी सॉफ्टवेयर के मदद से तो उसके हाथ में वही जंक फाइलें लगेंगे जो आपने एक बार factory reset करने के बाद डाला था।

ये भी पढ़े:- best screen recorder for android

secure your phone data

आप चाहें तो इस प्रोसेस को एक या दो बार और दोहरा सकते हैं।

ये प्रोसेस थोड़ा लंबा जरूर है लेकिन इससे आपके डेटा दूसरे के हाथ में जाने से सौ परसेंट तो नहीं लेकिन 90 परसेंट जरूर बचेगा।

क्योंकि आपका डाटा किसी दूसरे के हाथ में चला जाता है तो वो उसका किसी भी तरह से गलत इस्तेमाल कर सकता है।


तो हमने यहाँ पर सीखा Sell ​​old phones with caution उम्मीद है ये जानकारी आपके काम आएगी निचे कमेंट करके जरूर बताये।

Leave a Comment

error: Content is protected !!