Web Hosting Kya Hai कहा से ख़रीदे जानिए विस्तार से

इस पोस्ट में हम जानेंगे कि web hosting kya hai कहां से खरीदें कितने प्रकार का होता है ये काम कैसे करता है एवं कौन से site से वेब होस्टिंग खरीदना उत्तम होता है।

Web Hosting Kya Hai

हमारे website पर जो भी चीजें होती है जैसे files, video, image इत्यादि web hosting पर ही होती है। अगर हम अपना website WordPress पर या फिर किसी और site पर बनाते हैं तो हमारा वेबसाइट के फाइल्स वीडियो इमेज को रखने के लिए एक वेब होस्टिंग लेना होता है।

आप hosting के रूप में अपने computer का भी इस्तेमाल कर सकते हैं लेकिन इसके लिए आपके पास 24 घंटा बिजली कनेक्शन इंटरनेट कनेक्शन उपलब्ध होने चाहिए।

 क्योंकि जब भी आपका computer बंद हो जाया करेगा और आपके site पर कोई visit करना चाहेगा तो नहीं कर पाएगा क्योंकि आपका कंप्यूटर रूपी web hosting बंद पड़ा है।

इसीलिए हम दूसरे कंपनियों से web hosting खरीदते हैं क्योंकि वो सिर्फ वेब होस्टिंग का ही व्यापार करती है और इसके लिए नेट और बिजली का कनेक्शन वो 24 घंटा प्रबंध करके रखती है।

सरल भाषा में आप ये समझ लीजिए जैसे हमारा computer होता है कंप्यूटर में Ram, Rom processor इत्यादि होते हैं वैसे ही हम कहीं से भी web hosting खरीदते हैं तो वह एक कंप्यूटर के जैसा ही होता है जहां पर हम अपने फाइल्स वीडियो इमेज को रखते हैं।

Web hosting Kya hai कितने प्रकार का होता है।

वेब होस्टिंग मुख्यतः तीन प्रकार का होता है shared hosting, VPS hosting, dedicated  server

1.Shared hosting

जैसे हम एक किराए के कमरे में कई सारे दोस्त रहते हैं ठीक वैसे ही shared hosting होता है एक ही सिस्टम के ram CPU कई सारे यूजर यूज कर रहे होते हैं।

अगर आप blogging के क्षेत्र में नए हैं और अपना blog पहली बार बना रहे हैं तो आप shared hosting ले सकते हैं shared hosting पर महीने का 1000 traffic को झेलने की क्षमता होती है।

लेकिन अगर आपको ये विश्वास है कि आप अपना site बनाने के बाद उसे जल्दी ही Google मे rank करा पाएंगे एवं ज्यादा से ज्यादा traffic ला पाएंगे तो फिर आप VPS hosting के साथ जाइए।

क्योंकि अगर आप shared hosting लेते हैं और आपके site पर शेयर होस्टिंग के क्षमता से ज्यादा traffic आने लगता है तो फिर आपके साइट क्रैश हो सकता है।

Shared hosting के कुछ फायदे हैं तो कुछ नुकसान भी है।

Shared hosting के फायदे

Shared hosting को इस्तेमाल करना एवं इसका set up करना आसान होता है।

New blogger के लिए यह ऑप्शन अच्छा होता है।

Shared hosting मे space कम होता है इसलिए इसका कीमत भी कम होता है एवं इसे कोई भी खरीद सकता है।

Shared hosting के नुकसान

क्योंकि हम एक ही रूम में कई सारे दोस्त रहते हैं इसलिए हमें जगह बहुत कम मिलती है।

एक ही system के Ram एवं CPU को कई सारे user use करते हैं इसलिए इसका performance कभी ऊपर नीचे होता रहता है। एवं इसका सिक्योरिटी भी उतना बेहतर नहीं मिल पाता है।

VPS hosting (web hosting kya hai)

एक होटल के एक कमरे में सिर्फ आप रहते हैं और उस कमरे पर सिर्फ आपका ही अधिकार होता है ठीक वैसे ही VPS hosting होता है।

ये Hosting एक dedicated server होता है जो कि आप अकेले यूज करते हैं इसलिए इसकी security भी बेहतर होती है एवं performance भी अच्छा मिलता है।

अगर आपके site पर एक हजार से ज्यादा traffic आ रहा है तो फिर आपको VPS hosting लेना चाहिए क्योंकि फिर आपको RAM भी ज्यादा चाहिए एवं CPU की processing power भी ज्यादा चाहिए।

अगर आप shared hosting चला रहे हैं और आपके site पर traffic बढ़ने लगता है तो फिर आप VPS hosting में स्विच करा सकते हैं।

लेकिन अगर आप उदाहरण के लिए shared hosting 1 साल के लिए लिए थे और 2 महीने बाद ही VPS hosting में स्विच करा रहे हैं तो आपके शेयर होस्टिंग के बाकी के 10 महीने का पैसा बेकार चला जाएगा।

तो अगर आप blogging को गंभीरता से ले रहे हैं एवं ब्लॉगिंग में कैरियर बनाना चाहते हैं तो फिर आप VPS hosting से ही स्टार्ट करिए।

VPS hosting के फायदे

VPS hosting मे आपको बेहतर performance मिलता है।

इसमें आपको पूरी तरह से control मिलता है जैसे एक dedicated server में मिलता है।

इसे आप अपने हिसाब से customise कर सकते हैं साथ ही memory upgrade भी कर सकते हैं।

अगर आपका traffic एक हजार से ज्यादा है तो आप VPS hosting इस्तेमाल कर सकते हैं।

ये shared hosting से महंगा होता है लेकिन एक dedicated server से सस्ता होता है।

इसकी security भी shared hosting से काफी बेहतर होता है। एवं इसमें आपको customer support भी अच्छा मिलता है।

Dedicated hosting

Dedicated hosting का मतलब हुआ कि आपने एक पूरा का पूरा CPU किराए पर ले लिया जिसमें professor, Hardik, ram इत्यादि लगा हुआ है जैसे आप घर में कंप्यूटर चलाते हैं और आपका CPU होता है।

जिस तरह से एक होटल पर पूरा का पूरा आप ही का अधिकार है उसमें और कोई किरायेदार नहीं है ठीक वैसे ही dedicated hosting होता है अगर आपके site बहुत बड़ी है जैसे Amazon, Flipkart इत्यादि के तरह है तो आप dedicated hosting ले सकते हैं।

Dedicated hosting का जो sarvar होता है वह सिर्फ एक ही website के files को स्टोर करता है इसलिए इसकी स्पीड सबसे तेज होती है लेकिन ये costly यानी महंगा होता है। क्योंकि यहां पर इस पूरा होटल का किराया सिर्फ आप ही भर रहे हैं इसमें और कोई किरायेदार नहीं है।

जितने भी बड़े-बड़े साइट है जैसे Flipkart, Amazon, Snapdeal इत्यादि यह dedicated hosting पर अपने site को होस्ट करते हैं।

Dedicated hosting के फायदे

Dedicated hosting मे हमें सबसे ज्यादा Control एवं flexibility मिलता है एवं इसकी security भी सबसे ज़्यादा मजबूत होती है।

Dedicated hosting मे हमें full route/administrative मिलता है। लेकिन साथ ही यह भी जान लेना आवश्यक है कि इसे control करने के लिए आपके पास अच्छी खासी knowledge होनी चाहिए।

क्योंकि dedicated hosting में कुछ ऐसे बड़े-बड़े problem होते हैं जिसको हम खुद से solve नहीं कर पाते हैं तो इसके लिए हमें technician को रखना पड़ता है।

Cloud web hosting

Cloud hosting पर आप unlimited website बना सकते हैं आपके पास में जितने भी छोटे बड़े blog या website है आप उन सबको एक cloud hosting लेकर उस पर होस्ट कर सकते हैं।

cloud hosting को आप VPS का upgrade version मान सकते हैं एवं आप इसे update भी कर सकते हैं अपने वेबसाइट के सर्वर पर, उदाहरण के लिए आपको 2GB चाहिए 4GB, 8GB जितना भी चाहिए आप उतना में अपग्रेड कर सकते हैं।

Cloud hosting मे server down होने का chances ना के बराबर होता है एवं यहां पर high traffic को भी maintain किया जा सकता है।

Linux vs windows web hosting in hindi

Linux hosting open source operating system होता है और इसलिए ये सस्ता होता है क्योंकि यहां पर होस्टिंग कंपनी को पैसे नहीं देना होता है।

वहीं दूसरी तरफ window hosting के licence के लिए हमें कंपनी को पैसे देने पड़ते हैं तो ऐसे में ये महंगा हो जाता है। वैसे तो दोनों ही sarvar बहुत बढ़िया है लेकिन window, Linux से ज्यादा से secure होता है।

Linux के सस्ता होने के वजह से ज्यादातर blog या website इसी hosting पर host होते हैं। एवं इसमे features भी Windows से ज्यादा होता है।

WebHosting कहा से ख़रीदे

अब हम जानेंगे web hosting कहां से खरीदें, क्योंकि आप ब्लॉगिंग की दुनिया में सफलता पाना चाहते हैं तो ऐसे में एक best web hosting company को चुनना होगा।

और ऐसे में हो सकता है आपको अन्य सस्ती कंपनियों से पैसे थोड़ा ज्यादा लगे लेकिन आप तभी blogging के दुनिया में सफल हो पाएंगे।

वैसे तो नेट पर आपको बहुत सारी वेब होस्टिंग बेचने वाली कंपनियां मिल जाएगी लेकिन मैं आपको तीन कंपनियों के बारे में सजेस्ट करूंगा।

बेस्ट वेब होस्टिंग कंपनी

ये तीन कंपनियां भारत में पॉपुलर एवं बेस्ट है आप इनमें से कोई सा भी कंपनी का hosting plan ले सकते हैं, लेकिन जैसे कि मैंने ऊपर बताया होस्टिंग किसी भी कंपनी से लीजिए लेकिन share hosting का प्लान ना लेकर VPS hosting plan ही लीजिए।

Bluehost india

Blogging के क्षेत्र में ज्यादातर blogger WordPress पे blog बनाते हैं और वर्डप्रेस ने ऑफीशियली रूप से ब्लूहोस्ट का सुझाव दिया है।

तो आप खुद सोच सकते हैं कि जिस होस्टिंग कंपनी को खुद वर्डप्रेस ने सुझाव दिया है उसको लेने में आपको किसी भी तरह का कोई दिक्कत नहीं हो सकता है।

Bluehost India के लिए बेस्ट होस्टिंग कंपनी है अगर आप शुरुआती blogging करने जा रहे हैं तो आप इसका शेयर shared hosting plan ले सकते हैं और आपको ऐसा लगता है कि जल्दी ही ब्लॉगिंग में आगे बढ़ेंगे तो फिर इसका VPS hosting plan ले सकते हैं।

साथ ही ये भी ध्यान रखने वाली बात है कि आप bluehost India से hosting खरीदें क्योंकि ये bluehost US 10 गुना ज्यादा स्पीड रहेगी क्योंकि आप इंडिया में रहते हैं।

और अगर आप इंग्लिश में ब्लॉगिंग करते हैं और आपका ट्रैफिक का टारगेट इंडिया के अलावा भी अन्य देशों से है तो आप bluehost India के बजाय bluehost US ले सकते हैं।

Hostgator India

Hostgator भी top web hosting company के list मे आता है। यहां पर आपको अनलिमिटेड बैंडविथ एवं अनलिमिटेड ईमेल मिलता है।

अगर आप hostgator का hosting plan लेते हैं एवं आपको यह प्लान अच्छा नहीं लगता है तो आप 45 दिन के अंदर वापस भी कर सकते हैं आपको होस्टगेटर मनी बैक की गारंटी देता है।

Hostgator plan के साथ आपको कस्टमर केयर सपोर्ट भी 24 घंटे का मदद मिलता है। लेकिन रात के टाइम में ऑनलाइन चैट हेल्प के लिए आपको 5 से 10 मिनट तक का वेट करना पड़ता है।

जैसा कि मैंने आपको ऊपर bluehost India vs Bluehost US के बारे में बताया वही स्थिति यहां भी है यह आपके ब्लॉगिंग का लैंग्वेज के ऊपर निर्भर करता है आप कौन से कंट्री को टारगेट करना चाहते हैं।

अगर आप हिंदी में ब्लॉगिंग करते हैं और पोस्ट हिंदी में लिखते हैं तो आप hostgator in का प्लान ले सकते हैं। लेकिन मैं फिर भी आपको सजेस्ट यही करूंगा कि शेयर होस्टिंग के बजाय VPS होस्टिंग लेना समझदारी होगी।

Godaddy hosting plan

वैसे तो go daddy domain name के लिए पॉपुलर एवं विख्यात है लेकिन अब बहुत से लोग गोडैडी से ही डोमेन के साथ ही godaddy hosting plan भी खरीद रहे हैं।

Godaddy hosting plan मे आपको स्टार्टर प्लान इकोनामी प्लान डीलक्स और अनलिमिटेड प्लान मिलेंगे अब आपको यहां पर अपनी जरूरत के हिसाब से प्लान सिलेक्ट करना होगा।

मुझे पूरा उम्मीद है कि इस पोस्ट का मुख्य सवाल Web Hosting Kya Hai एवं kaha se kharide और साथ ही Linux vs windows web hosting in Hindi का जवाब आपको मिल चुका है।

मैं हमेशा यही कोशिश करता हूं कि हमारे readers को अपने सवालों के जवाब के लिए कहीं और ना जाना पड़े, अगर फिर भी आपका कोई सवाल या फिर सुझाव है तो नीचे कमेंट जरुर करिए एवं यह पोस्ट आपको कैसा लगा इस बारे में भी बताइए। धन्यवाद

12 thoughts on “Web Hosting Kya Hai कहा से ख़रीदे जानिए विस्तार से”

    • आप ऊपर नीले कलर में लिखा हुआ bluehost के ऊपर क्लिक करेंगे तो ब्लूहोस्ट के साइट पर चले जाएंगे वहां से आप सभी तरह के प्लान को देख पाएंगे सस्ता वाला भी और माहंगा वाला भी, आप अभी अपना ब्लॉग स्टार्ट करने वाले हैं तो ब्लूहोस्ट का शेयर होस्टिंग ले सकते हैं यह सस्ता होता है

      Reply
  1. bahot hi badhiya aapne post likha hai hosting ke liye. yah post padh ke sare doubt clear ho gye… thanks sir

    Reply
  2. यदि पहली बार कोई वेबसाइड बना रहा तो क्या इसे कितने तक की वेब होस्टिंग खरीदनी चाहिए

    Reply
  3. बहुत ही बढिया सुज्झाओ दिया आपने आप कब से ब्लॉग्गिंग कर रहे है प्लीज बताये जरुर

    Reply

Leave a Comment